Home अंतरराष्ट्रीय गरीबों को उजड़ने से पहले जमीन के बदले जमीन व घर के...

गरीबों को उजड़ने से पहले जमीन के बदले जमीन व घर के बदले उचित मुआवजा दिया जाए 

293
0
Google search engine

रंजीत संपादक

रूद्रपुर कल्याणी नदी के किनारे बसे हजारों परिवारों को नोटिस आने के बाद गरीब मजदूर मध्यमवर्गीय परिवारों के अंदर दर का माहौल पैदा हुआ है उनके दुख दर्द को जानने के लिए समाजसेवी सुब्रत कुमार विश्वास परिवारों के बुलाने पर खेड़ा वार्ड नंबर 19/17 व विभिन्न क्षेत्रों में पहुंचकर उनका हाल-चाल जाना । परिवारों का कहना है कि सरकार 20 मी कहकर 40 मी नाप के जा रही है हमारे जो घर परिवार हैं हम यहां 20-20 40 सालों से रह रहे हैं और कई परिवार तो ऐसे हैं जिनकी एक पीढ़ी यहां गुजर चुकी है कल्याणी नदी में जिन लोगों ने अवैध तरीके से कब्जा कर रखा है उन पर तो कार्रवाई नहीं की जा रही परंतु जो दूरी पर है उनकी और जमीन ली जा रही है परिवारों का कहना है कि हम मना नहीं कर रहे कि अतिक्रमण अपना हटाए परंतु चिन्हित करके सही प्रकार से कार्य करें ।। वही समाज से भी सुब्रत विश्वास जी का कहना है कि अतिक्रमण मकान को अगर प्रशासन हटती है तो जमीन के बदले जमीन दिया जाए और मकान के बदले उचित मुआवजा दिया जाए पहले यह सुनिश्चित कर तत्पश्चात इन गरीब परिवारों का घर तोड़ने का कार्य किया जाए अन्यथा यह सब गरीब परिवार अपना अपना सामान लेकर रुद्रपुर की यशस्वी विधायक शिव अरोड़ा के घर में डेरा डालेगी । क्योंकि विधायक का घर भी आम जनता का घर है और जो विधायक जनता का है जनता का अधिकार बनता है अगर जनता के सॉन्ग कोई विपत्ति आ रही है तो उसके संग विधायक सशक्त होकर खड़ा रहेगा परंतु दुख की बात है राम लोहिया मार्केट नहीं बचा पाए रुद्रपुर के विधायक तो इन विचारों के गरीबों का आशियाना कैसे बचाएंगे । और बचा दे इन परिवारों का घर तो नतमस्तक है हम सभी ।। रोड बिजली सड़क और पानी के कनेक्शन देने वाले नेताओं और अधिकारियों के ऊपर भी जांच होनी चाहिए अतिक्रमण क्षेत्र में यह सुविधा कैसे पहुंचाएगी और जो वोट लिए गए इन लोगों से विधायक एमपी पार्षद और यहां तक के प्रधानमंत्री को भी तत्काल निरस्त किया जाए अवैध वोट लेना भी या अवैध लोगों से वोट लेना भी गैरकानूनी अपराध है ।। इन गरीब परिवारों का पहला पुनर्वासन किया जाए तब पश्चात उनके घर तोड़ा जाए नहीं तो आंदोलन के लिए बाध्य होंगे जिसका जिम्मेदार शासन प्रशासन होगा । गरीब परिवारों से मुलाकात में उपस्थित श्रमिक संयुक्त मोर्चा के अध्यक्ष दिनेश तिवारी इंकलाबी मजदूर केंद्र के पूर्व अध्यक्ष कैलाश भट्ट डॉल्फिन कंपनी के अध्यक्ष ललित/ सोनू गुड्डू राजवीर ,नाजिम ,राजेंद्र ,बाल्मीकि ,दिनेश वाल्मीकि, अनीता वाल्मीकि विवेक शर्मा राकेश मंडल जतिन विश्वास सैकड़ो लोग मौजूद थे ।।

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here