Home उत्तरप्रदेश ओम राउत व मनोज मुंतशिर शुक्ला के फोटो पर जूते मारकर जलाया...

ओम राउत व मनोज मुंतशिर शुक्ला के फोटो पर जूते मारकर जलाया करणी सेना ने पुतला

126
0
Google search engine

संवाददाता विमल सिंह 

बरेली। एक ऐसी फिल्म जिसने पूरे देश क्या विदेश में तक बवाल मचा दिया। भारत से लेकर नेपाल तक इस फिल्म का विरोध किया जा रहा है। आज करणी सेना ने भी डीडीपुरम के सलेक्शन प्वाइंट चौराहे पर सनातन का अपमान बताकर करणी सेना आदि पुरुष मूवी के डायरेक्टर व लेखक ओम राउत , तथा फिल्म के डायलॉग लिखने वाले मनोज मुंतशिर शुक्ला के फोटो पर जूते चप्पल मारकर उनका पुतला जलाकर प्रदर्शन किया। और अपशब्दों का भी प्रयोग करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से तत्काल उत्तर प्रदेश में मूवी को बैन करने की मांग की।दरअसल इस मूवी को लिखने वाले ओम राउत का कहना है कि वो भगवान श्री राम के बहुत बड़े भक्त हैं। वहीं मनोज मुंतशिर शुक्ला भी हमेशा सनातन की बात कहते है। वहीं इस फिल्म में डायलॉग लिखने वाले मनोज मुंतशिर शुक्ला ने घटिया शब्दों का प्रयोग करते हुए डायलॉग को लिखा है। इस फिल्म की स्टोरी लिखने वाले ओम राउत ने दिखाया है जिस बख्त सीता का हरण रावण ने किया दिखाया कि उस बख्त श्री राम और लक्ष्मण मौजूद थे। इसी को लेकर करणी सेवा ने सिलेक्शन पॉइंट चौराहे पर पहुंचकर प्रदर्शन किया और और फिल्म के डायलॉग लिखने वाले मनोज मुंतशिर शुक्ला व फिल्म के लेखक ओम राउत के फोटो पर जूते मारने के बाद उनका पुतला जलाया। इस दौरान करणी सेना के जिला अध्यक्ष ठाकुर राहुल सिंह ने कुछ विवादित शब्दों का भी इस्तेमाल किया , जिसमें ओम राउत और मनोज मुंतशिर शुक्ला को गालियां दी। साथ ही उन्होंने कहा कि रावण का जो किरदार दिखाया है वह बिल्कुल मुस्लिम वेशभूषा में है। जैसी दाढ़ी एक मुसलमान की होती है उसी तरह की दाढ़ी को फिल्म में दिखाया गया है। उन्होंने कहा कि यह सरासर सनातन धर्म का अपमान है

। मर्यादा पुरुषोत्तम राम पर बनी इस फिल्म को इतना तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है जिसमें आज की पीढ़ी इस फिल्म को देखेगी तो उनके जहन में यही होगा की राम ऐसे थे, हनुमान जी का किरदार यह था । इन्होंने सारे किरदारों को तोड़ मारो कर रख दिया है। ठाकुर राहुल सिंह का कहना है कि अगर इस फिल्म को उत्तर प्रदेश में बैन नहीं लगाया गया तो पूरे उत्तर प्रदेश में करणी सैनिक प्रदर्शन करेंगे और सिनेमाघर को आग के हवाले कर देंगे। किसी भी कीमत पर इस फिल्म को उत्तर प्रदेश में चलने नहीं देंगे। उन्होंने कहा की फिल्म को बनाने वाले अपने आप को राम का भक्त कहते हैं। फिल्म को बनाने वाले चाहे किसी भी जाति धर्म के क्यों ना हो उन्होंने सनातन का अपमान किया है और करणी सेना किसी भी कीमत पर सनातन का अपमान सहन नहीं करेगी। ठाकुर राहुल सिंह का कहना है, यह तो एक ट्रेलर था।अभी ये संकेत दिया गया है कि मूवी को बैन करो नहीं तो पूरे उत्तर प्रदेश में करणी सैनिक उग्र प्रदर्शन होंगे।

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here